शादी में फेरे के दौरान दूल्हा
कहानी

शादी में फेरे के दौरान दूल्हा की बात सुनकर आपको हंसी नहीं रुकेगी।

ससुर जी आपकी बेटी में दिमाग नाम की चीज नहीं है बेटा तुमने उसका हाथ मांगा था दिमाग की कोई बात ही नहीं हुई थी

पति ने पत्नी को मैसेज किया आज रात डिनर पर मेरे साथ कुछ दोस्त आ रहे हैं अच्छा सा खाना बनाना पत्नी का कोई जवाब नहीं आया पति ने दूसरा मैसेज क्या मेरी सैलरी ज्यादा हो गया है। अगले महीने तुम्हें सोने की अंगूठी लाकर दूंगा।

पत्नी ने रिप्लाई किया ओ माय गॉड सच्ची नहीं वह तो मैं चेक कर रहा था कि मेरा पहला मैसेज मिला या नहीं वरना तुम बोलोगी मुझे तो मैसेज मिला ही नहीं अगर मैं मर गई तो तुम क्या करोगे शायद मैं भी मर जाऊं क्यों कभी-कभी ज्यादा खुशी भी जानलेवा होती है।

मेरी तबीयत ठीक नहीं लग रही है ओ हो पर मैं तो तुम्हें साथ शॉपिंग पर ले जाने की सोच रहा था जानू मैं तो मजाक कर रही थी मैं भी मजाक ही कर रहा था। चल उठ के खाना बना।

लड़कियां कभी खुद प्यार का इजहार नहीं करती है क्यों ताकि ब्रेकअप करते समय वह यह कह सके कि तुम ही मेरे पीछे पड़े थे मैं नहीं दो बच्चे की मां तीसरी शादी कर रहे थे फेरे के समय एक बच्चा रोने लगा मां का जवाब सुनकर दुला बेहोश हो गया मां बोली चुप हो जाना नहीं तो अगली बार नहीं आऊंगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.