भारतीय दंड संहिता धारा 376बी क्या कहती है।
Technical G.K.

भारतीय दंड संहिता धारा 376बी क्या कहती है।

आज हम आपके लिए भारतीय दंड संहिता की धारा 376B के बारे में संपूर्ण जानकारी देंगे क्या कहती है भारतीय दंड संहिता धारा 376 बी के अंतर्गत कैसे क्या सजा मिलती है और यह अपराध किस श्रेणी में आता है।

धारा 376B के अनुसार जो कोई धारा 376बी की धन्य कोई अपराध करता है और ऐसे अपराध के दौरान ऐसी कोई क्षति पहुंचाता है जिससे स्त्री की मृत्यु कारीत हो जाती है यह जिसके कारण उस स्त्री का दशा लगातार विकृतशील हो जाती है। तो ऐसी अवधि के कठोर कारावास से जिसकी अवधि 20 वर्ष से कम नहीं होगी।

IPC 326a ,326b क्या है? भारतीय दंड संहिता की धारा 326ए कब लगती है, सजा

किंतु जो आजीवन कारावास तक की हो सकेगी जिससे उस व्यक्ति के शेष प्रकृति जीवन काल के लिए कारावास अभिप्रेत होगा या मृत्यु दंड से दंडित किया जाएगा।

भारतीय दंड संहिता की धारा 376बी के अनुसार इस धारा को कानून इस धारा के तहत जब पति पत्नी एक दूसरे से अलग रह रहे हैं या अलग रहने की डिक्री के अधीन है तब वह पति अपनी पत्नी के साथ उसकी सहमति के बिना सरीरिक संबंध बनाता है।

आईपीसी धारा 304B क्या है। IPC 304B

तो यह बलात्संग माना जाएगा जो की एक अपराध है और दोषी पति को न्यायालय द्वारा दंडित किया जाएगा जो कि 2 साल या 7 साल तक कारावास की सजा से दंडित किया जाएगा और जुर्माना से भी दंडित किया जाएगा।

सरकारी जमीन से अतिक्रमण हटाने के लिए अप्रैल माह में अभियान। Campaign in the month of April to remove encroachment from government land.

Leave a Reply

Your email address will not be published.