PLV meeting in araria on subhash stadium
राष्ट्रीय

PLV को समस्याओं से बचाएगा यूनियन, जल्द होगी गठन

गणपत कुमार, दिव्य संवाद, अररिया, आज अररिया के नेताजी सुभाष स्टेडियम में अररिया जिला विधिक सेवा प्राधिकार के PLV (पारा विधिक स्वयंसेवक) की बैठक हुई। जिसमें जिला के अधिकाधिक पारा विधिक स्वयंसेवक भाग लिए।

लॉक डाउन के नियमों का पालन करते हुए पारा विधिक स्वयंसेवकों ने अपने मूल समस्याओं पर विस्तार से चर्चा की।

कौन है (PLV) पारा विधिक स्वयं सेवक

सुप्रीम कोर्ट ने आमजन की समस्या को देखते हुए सरकार को उनकी सहायता के लिए एक प्राधिकरण के गठन का निर्देश दिया था। जिसके फलस्वरूप केंद्र में राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकार, राज्य में राज्य विधिक सेवा प्राधिकार, और जिला में जिला विधिक सेवा प्राधिकार का गठन किया गया। अब यह समस्या उत्पन्न हुई कि समाज के अंतिम पायदान पर खड़े पिछड़े, पीड़ित शोषित, निर्धन व्यक्तियों तक सहायता कैसे पहुंचाया जाए? इसके लिए हर जिले में पारा विधिक स्वयंसेवक को रखा गया।

क्या है PLV के कार्य

PLV का मुख्य कार्य लोगों में संविधान एवं उनके अधिकारों के प्रति जागरूक करना है। साथ ही समाज के पिछड़े, निर्धन, शोषित, असहाय, महिलाओं, बच्चों, मजदूरों एवं अन्य के समस्याओं को जिला विधिक सेवा प्राधिकार के सामने लाने एवं संबंधित विभाग से मिलकर उनकी समस्या का निदान निशुल्क करना है।

बैठक में क्या चर्चा हुई

जहां PLV लोगों की समस्याओं को दूर करने के लिए देवदूत कहे जाते हैं वही PLV अपनी समस्याओं से जूझ रहे हैं। कई PLV ऐसे हैं जिनके पास एंड्रॉयड मोबाइल नहीं है। ऐसे में उन्हें अपने कार्यों की फोटो खींचने एवं अन्य विभागीय कार्यों में परेशानी होती है। PLV के कार्यों का मेहनताना कब मिलेगा यह बात किसी को मालूम नहीं होती है।

पीएलभी को अधिकतर जनप्रतिनिधि अपना दुश्मन समझते हैं। और झोलाछाप दलाल तो पीएलभी को अपने सातों जन्मों का दुश्मन समझते हैं। जिसके परिणाम स्वरूप पीएलभी को कई बार असामाजिक तत्वों का सामना भी करना पड़ता है और कई पीएलभी इनके शिकार भी हुए हैं। बैठक में इन्हीं समस्याओं से निपटने हेतु विशेष चर्चा की गई एवं पीएलभी के यूनियन गठित करने का की बात कही गई।

PLV मोहम्मद अंजर रिजवान ने फोन पर बताया कि

“हम लोग न्यायपालिका के अंतर्गत कार्य करते हैं। न्यायालय हमारे लिए अल्लाह का घर है। हम लोग लॉकडाउन का पालन करते हुए बैठक किए हैं। हम लोग जल्द ही अपना यूनियन बनाकर अपनी मांग, अपनी समस्याओं को विभाग के समक्ष रखेंगे।”

बैठक में PLV ओमप्रकाश, चंदन कुमार पासवान, मनोज प्रकाश, नीरज ठाकुर, बिक्रम ठाकुर, पंकज ठाकुर, बबलू यादव, कुमोद पासवान, मो0 अंजर रिजवान, इमाम आलम, विनोद कुमार, दिवेश कुमार, रमन कुमार, डोली भारती, रूपेश कुमार, भरत दास, सुधीर कुमार, दीपक पंडित, राजीव रंजन एवं अन्य पीएलभी भाग लिए।

यह भी पढ़ें:- PLV के माथे पर चिंता की लकीरें क्यों?

2 Replies to “PLV को समस्याओं से बचाएगा यूनियन, जल्द होगी गठन

Leave a Reply

Your email address will not be published.