आत्मरक्षा के लिए मार्शल आर्ट जरूरी - चंदन कुमार मेहता
क्षेत्रीय

आत्मरक्षा के लिए मार्शल आर्ट जरूरी – चंदन कुमार मेहता

अररिया/सुपौल (गणपत कुमार) सीमा से सटे अररिया के भरगामा प्रखंड क्षेत्र के जयनगर एवं सुपौल के छातापुर प्रखंड के ग्वालपाड़ा पंचायत के सिमा अंतर्गत ग्वालपाड़ा रतनसार वार्ड 11 में टाइम मार्शल आर्ट कराटे क्लब के जाहिद खान टाइगर व साथियों द्वारा दिव्य बुद्धा आवासीय शिक्षण संस्थान के साथ बच्चों को मार्शल आर्ट का निशुल्क प्रशिक्षण दिया जा रहा है। प्रशिक्षण में छात्र एवं छात्राओं को आत्मरक्षा की जानकारी दी जा रही है।

छह साल की मासूम से दुष्कर्म के आरोपी मोहम्मद मेजर को फांसी की सजा

दिव्य बुद्धा आवासीय शिक्षण संस्थान के छात्र छात्राओं को संस्थान की ओर से जुडो-कराटे सिखाया जा रहे है।आत्मरक्षा सभी के लिए जरूरी है। संस्थान के प्रबंधक चंदन कुमार मेहता ने कहा प्रशिक्षण के बाद बच्चे अपनी रक्षा खुद कर सकेंगे।

अब तक 60 से अधिक छात्र-छात्राएं आत्मरक्षा के गुड़ सीख रहे हैं। छात्र छात्राओं को स्वयं रक्षा के लिए मार्शल आर्ट्स भी जरूरी है। आयोजित प्रशिक्षण में प्रतिभागियों को किक, पंच, बेसिक, काता, एडवांस सेल्फ डिफेंस तकनीकें, फाइट सिखाए जा रहे हैं।

मनरेगा घोटाला मजदूरों से सेटिंग के फिराक में मुखिया जी

बताया कि प्रशिक्षण में बालिकाओं को खास आत्मरक्षा के तरीके सिखाए जा रहे हैं। ताकि वह आत्मरक्षा कर सकें। मार्शल आर्ट से छात्र-छात्राओं में आत्मविश्वास बढ़ रहा है।

इस दौरान सहायक गौरव कुमार ने कहा कि अगर छात्र छात्राओं को प्रशिक्षण मिल जाने से वे अपनी सुरक्षा स्वयं कर सकते है।

साथ सो रहे थे पति-पत्‍नी को जिंदा जलाने की कोशिश, पेट्रोल छिड़क कर लगा दी आग

किशोरी बालिकाओं के लिए योजना

Leave a Reply

Your email address will not be published.