परिवहन विभाग
राष्ट्रीय

रोड एक्सीडेंट में मारे गए आश्रितों को अब परिवहन विभाग देगा मुआवजा

पूरे देश में पिछले एक दशक में ही लगभग 14 लाख लोग सड़क दुर्घटनाओं में मारे गए हैं. बिहार के मामले में देखें तो औसतन प्रतिवर्ष यह आंकड़ा 7000 रहता है. अधिकतर मामलों में रोड एक्सीडेंट से होने वाली मौतों के बाद आश्रितों की आर्थिक स्थिति भी बदहाल हो जाती है.

अब बिहार सरकार ने इसके लिए परिवहन विभाग को रिवॉल्विंग फंड बनाने का निर्देश दिया है जिससे सड़क दुर्घटना में मारे गए लोगों के परिजनों को सुगमता से मुआवजा मुहैया करवाया जा सके. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शुक्रवार को परिवहन विभाग की समीक्षा के दौरान इसके लिए आवश्यक कार्रवाई करने का निर्देश दिया है.

इसके अनुसार वाहनों से होने वाली सड़क दुर्घटना के दौरान मृत्यु होने पर आश्रितों को मुआवजा देने के लिए परिवहन विभाग में रिवॉल्विंड फंड बनेगा. बता दें कि अभी दुर्घटना में मौत होने पर आश्रितों को आपदा प्रबंधन विभाग की ओर से अनुग्रह अनुदान दी जाती है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *