राजद प्रत्याशी सरफराज आलम पर गंभीर आरोप, चुनाव आयोग कर सकता है बड़ी कार्रवाई
राष्ट्रीय

राजद प्रत्याशी सरफराज आलम पर चुनाव आयोग दिए एफआईआर के आदेश

बिहार विधानसभा चुनाव के तीसरे और अंतिम चरण के लिए मतदान हो चुके हैं। तीसरे और अंतिम चरण के मतदान के दौरान अररिया के जोकीहाट सीट से राष्‍ट्रीय जनता दल (राजद) के उम्‍मीदवार सरफराज आलम पर आचार संहिता के उल्‍लंघन का आरोप लगा है।

सरफराज आलम अपनी शर्ट पर पार्टी का लोगो लगाकर बूथ पर पहुंच गए

सरफराज आलम अपनी शर्ट पर पार्टी का लोगो (लालटेन छाप का स्टिकर) लगाकर बूथ पर पहुंच गए थे। यह सिसौना के बूथ संख्‍या 110 का मामला है। मिली जानकारी के अनुसार पार्टी का लोगो लगी शर्ट पहने बूथ पर पहुंचे सरफराज आलम को इस पर टोका गया तो वह मुस्‍कुराते हुए वहां से चले गए। पत्रकारों ने उनसे सवाल किए लेकिन उन्‍होंने किसी का जवाब नहीं दिया। बस मुस्‍कुराकर वहां से चले गए।

विरोधियों ने सरफराज आलम पर जानबूझकर आचार संहिता के उल्‍लंघन का आरोप लगाया है। चुनाव आयोग ने इस पर सख्‍त रूप अख्तियार कर लिया है।

मुख्‍य निर्वाचन अधिकारी ने अररिया के निर्वाचन अधिकारी को मामले में जाँच कर एफआईआर दर्ज करने का निर्देश दिया है। इस बारे में अररिया के डीएम प्रशांत कुमार ने कहा है कि उन्‍हें पूरे मामले की जानकारी मिल गई है। यह आचार संहिता के उल्‍लंघन का मामला है। निश्‍चय ही इसमें आरोपी के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर कार्यवाही की जाएगी।

कौन हैं सरफराज आलम

सरफराज आलम जोकीहाट से राजद के उम्‍मीदवार हैं। उनके पिता तसलीमुदीन सीमांचल की जानी मानी राजनीतिक शख्सियत थे। वह केंद्र में मंत्री रहे। सिसौना उनका पैतृक गांव है। जोकीहाट सीट पर सरफराज अपने छोटे भाई और एआइएमआईएम उम्‍मीदवार शहनवाज आलम के खिलाफ चुनाव लड़ रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.